Wednesday, 26 September 2018, 3:03 AM

ज्योतिष एवं वास्तु

क्या मुसीबतों से घिरा है आपका आशियाना तो ये हो सकता है कारण

Updated on 10 August, 2018, 7:00
हर किसी के जीवन में अपने सपनों का महल बनाने की चाह रहती है। अपना घर बनवाते समय व्यक्ति के मन में ये बात हमेशा रहती है कि उसका घर महल जैसा हो ताकि उसकी आने वाली पीढ़ी भी सुख और आराम के साथ अपना जीवन व्यतीत कर सके। लेकिन... आगे पढ़े

सर्वनाश का कारण बनती हैं ये 9 बातें, रामायण के अनुसार

Updated on 10 August, 2018, 6:40
रावण बहुत विद्वान था। धार्मिक पुस्तकों में उसे प्रखांड पंडित की उपाधि भी दी गई है। लेकिन कुछ अवगुणों के कारण वह अपने परिवार के साथ ही सोने की लंका को भी गंवा बैठा और आज भी उसे एक दुराचारी और पापी की तरह ही देखा जाता है। रावण का... आगे पढ़े

साल का आखिरी सूर्यग्रहण चीन के लिए अशुभ, भारत में रहने वालों पर प्रभाव जानें

Updated on 10 August, 2018, 6:20
मेदिनी ज्योतिष में ग्रहण के समय बनानेवाली ग्रह स्थिति का बहुत महत्व है। इसका उपयोग मौसम में होनेवाले परिवर्तनों, वर्षा, बाढ़ और भूकंपन आदि की भविष्यवाणियों के लिए किया जाता हैl क्योंकि ग्रहण राजसी ग्रहों सूर्य और चंद्रमा पर लगता है तो इसलिए इसका प्रभाव महत्वपूर्ण व्यक्तियों और शासक वर्ग... आगे पढ़े

हरियाली तीज 2018 : साड़ी पहनने के यह 6 तरीके लगाएंगे आपके लुक में चार चांद

Updated on 9 August, 2018, 14:30
तीज के मौके पर हर कोई सबसे सुंदर दिखना चाहता है। मेकअप, मेंहदी, चूड़ी और साड़ी भी सबसे अलग हटकर होना चाहिए। तो मोहरमा आपकी इसी उलझन का हल हम यहां देने जा रहे हैं। इन 6 में से किसी भी तरीके से साड़ी पहनकर जब आप तीज की पार्टी... आगे पढ़े

सावन शिवरात्रि आज, बना अनोखा शुभ संयोग, पूरी होगी शिवभक्तों की मनोकामना

Updated on 9 August, 2018, 12:45
वैसे तो प्रत्येक महीने कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है। इस समय सावन का महीना चल रहा है जिसके कारण शिवरात्रि का बहुत महत्व है। सावन महीने के शिवरात्रि को सबसे ज्यादा शिवलिंग पर जल इसी दिन चढ़ाया जाता है। इस मौके पर देशभर के... आगे पढ़े

इस युद्ध को रोकने के लिए स्वयं शिव पधारे थे पृथ्वी पर

Updated on 9 August, 2018, 8:20
अपने भक्तों के कष्ट हरने के लिए शिव समय-समय पर पृथ्वी पर आते हैं। ऐसा ही एक वाकया द्वापर युग में महाभारत के युद्ध के बाद हुआ। यह युद्ध इतना भीषण था कि इसे समाप्त कराने के लिए स्वयं भगवान शंकर पृथ्वी पर प्रकट हुए थे। यह युद्ध था स्वयं... आगे पढ़े

इस वजह से भगवान शिव को कहा जाता है पशुपति, इन्होंने दिया था आशुतोष नाम

Updated on 9 August, 2018, 7:00
श्री श्री आनन्दमूर्ति वज्र शिव का शक्तिशाली अस्त्र है। वज्र को शिव निरीह पशु-पक्षियों को बचाने के लिए तथा मानवता विरोधी व्यक्तियों के विरुद्ध व्यवहार में लाते थे। शिव जीवन के सब क्षेत्रों में अत्यंत संयमी कहे जाते हैं। इसलिए अस्त्र का व्यवहार वह कभी-कभार ही करते थे। उन्होंने अच्छे लोगों... आगे पढ़े

जानें महाकाल की भस्‍म आरती का रहस्‍य, क्‍यों महिलाओं को यहां करना पड़ता है घूंघट

Updated on 9 August, 2018, 6:40
भगवान शिव के सबसे रहस्‍यमयी स्‍वरूपों में से एक है महाकाल। वर्तमान में महाकाल के रूप में भगवान भोलेनाथ तीर्थ नगरी उज्‍जैन में विराजमान हैं। महाकाल की 5 आरतियां होती हैं, जिसमें सबसे खास मानी जाती है भस्‍म आरती। भस्‍म आरती यहां भोर में 4 बजे होती है। आइए जानते... आगे पढ़े

क्या सच में वास्तु और गणेश का है इतना Strong कनेक्शन

Updated on 9 August, 2018, 6:20
हिंदू धर्म में गणपति जी का बहुत खास महत्व है। चाहे किसी भी प्रकार की पूजा-हवन आदि हो सबसे पहले गणेश जी की ही वंदना की जाती है। क्योंकि ग्रथों के अनुसार इन्हें समस्त देवी-देवताओं में सर्वप्रथम पूजे जाने का आशीर्वाद प्राप्त है। मान्यताओं के अनुसार किसी भी मांगलिक, वैदिक... आगे पढ़े

शिव पुराण में बताए गए हैं शिव पूजा से जुड़े ये 8 नियम, करेंगे पालन तो मिलेगा पूरा फल

Updated on 8 August, 2018, 7:00
इस समय पूरी प्रकृति ही शिवमय है। सावन का महीना है और हर तरफ शिव के जयकारों की गूंज है। कहीं कावड़िए बम बोल के जयकारे लगा रहे हैं तो कहीं मंदिरों में शिवजी की पूजा के लिए कतारें लगी हैं। सावन शिव का प्रिय महीना है। इसलिए शिव को... आगे पढ़े

गलती से भी न देखें भगवान की ऐसी मूर्ति, वरना...

Updated on 8 August, 2018, 6:20
भगवान के दर्शनों के लिए लोग मंदिरों में जाते हैं या उनकी प्रतिमा को अपने घर के मंदिर में भी रखते हैं। लेकिन बहुत ही कम लोगों को पता होगा कि प्रतिमा का चुनाव और उसको रखने के लिए सही दिशा क्या है। कई मूर्तियां एेसी भी होती हैं जिनके... आगे पढ़े

11 अगस्त को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, जानें ग्रहण का समय

Updated on 7 August, 2018, 13:03
Solar Eclipse August 2018: 11 अगस्त को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण लगने वाला है। यह साल का तीसरा सूर्य ग्रहण होगा। इसे पहले 13 जुलाई और 15 फरवरी 2018 को दो सूर्य ग्रहण पड़ चुके हैं। 11 अगस्त के ग्रहण के बाद अब अगला सूर्य ग्रहण 6 जनवरी 2019... आगे पढ़े

काम में नहीं लगता है मन तो करें ये काम

Updated on 7 August, 2018, 6:40
कई बार एेसा होता है कि हर कोई घर से तो खुश होकर ही अपने काम के लिए निकलता है। लेकिन ऑफिस में जाकर काम में दिल नहीं लगता है या ध्यान कहीं ओर ही लगा रहता है। एेसा भी होता है कि बेवजह की टेंशन से या फिर आस-पास... आगे पढ़े

कामिका एकादशी 2018, जानें सही तिथि और मुहूर्त, गृहस्थ रखें इसदिन व्रत

Updated on 7 August, 2018, 6:20
हिंदू परंपरा में एकादशी को पुण्य कार्यों के लिए, भक्ति के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। वैसे तो एक साल में 24 एकादशी होती हैं लेकिन मलमास या अधिकमास होने के कारण इनकी संख्या 26 हो जाती है। श्रावण मास के कृष्ण पक्ष में आने वाली एकादशी को कामिका... आगे पढ़े

कौन हैं शिव ?

Updated on 6 August, 2018, 19:15
शिव संस्कृत भाषा का शब्द है, जिसका अर्थ है, कल्याणकारी या शुभकारी। यजुर्वेद में शिव को शांतिदाता बताया गया है। 'शि' का अर्थ है, पापों का नाश करने वाला, जबकि 'व' का अर्थ देने वाला यानी दाता।   क्या है शिवलिंग...???   शिव की दो काया है। एक वह, जो स्थूल रूप से व्यक्त... आगे पढ़े

हत्या देवी, इसलिए मंदिर में जाने से डरते हैं पुरोहित के वंशज

Updated on 6 August, 2018, 8:20
हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में एक ऐसा मंदिर है, जहां एक गांव के लोग हर रोज दर्शन करते हैं और दूसरे गांव के लोग वहां जाने से भी डरते हैं। हत्या देवी कोई और नहीं सुकेत राज्य की राजकुमारी हैं। एक समय में मंडी का नाम सुकेत हुआ करता... आगे पढ़े

भगवान ने बताया इस तरह मै ही हूं अमृत और मृत्यु

Updated on 6 August, 2018, 7:00
सुरक्षित गोस्वामी तपाम्यहमहं वर्षं निगृह्णम्युत्सृजामि च | अमृतं चैव मृत्युश्च सदसच्चाहमर्जुन || गीता 9/19|| अर्थ: मैं ही सूर्य रूप से तपता हूं, वर्षा का आकर्षण और बरसाता हूं। हे अर्जुन! अमृत और मृत्यु मैं ही हूं और मैं ही सत्-असत् भी हूं। व्याख्या: क्योंकि परमात्मा कण-कण में व्याप्त है, इसलिए जो कुछ भी इस... आगे पढ़े

वास्तुनुसार जानें, भूमि के रंगों का आपकी जीवन पर पड़ने वाला प्रभाव

Updated on 6 August, 2018, 6:40
हर इंसान के जीवन में रंग का बेहद महत्वूपर्ण स्थान होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार, हर रंग की अपनी नियती तथा अलग प्रभाव होता है, जो मानव जीवन को प्रभावित करता है। अगर हम वास्तु के अनुसार घर में रंगों का प्रयोग करें तो जीवन में सुख-शांति, प्रेम, अच्छा... आगे पढ़े

सावन में शिव का दर्शन नहीं कर पाए हैं तो न करें चिंता, घर बैठे स्पीड पोस्ट से पाएं प्रसाद

Updated on 6 August, 2018, 6:20
नई दिल्ली. सावन के महीने में भगवान शंकर की पूजा और उनके प्रसाद की बड़ी महिमा है. अक्सर लोगों की इच्छा होती है कि घर बैठे ही उन्हें बाबा भोलेनाथ का प्रसाद मिल सके. ऐसे में डाक विभाग ने इस बात के प्रबन्ध किए हैं कि देश के किसी भी... आगे पढ़े

मंदिर के 7 दरवाजों के पीछे ऐसा रहस्य, डरती है दुनिया खुल गया तो

Updated on 5 August, 2018, 7:00
केरल के तिरुवनंतपुरम में स्थित पद्मनाभ स्वामी मंदिर, भगवान विष्णु को समर्पित है, जो पूरी दुनिया में मशहूर है। साथ ही दुनिया के कुछ रहस्यमय जगहों में इसकी गिनती होती है। दरअसल, यहां ऐसे कई रहस्य हैं, जिन्हें कई कोशिशों के बाद भी लोग इसको सुलझा नहीं पाएं हैं। इस... आगे पढ़े

Birth Date से जानें कैसे आएगी Life में बहार

Updated on 5 August, 2018, 6:20
वास्तु और ज्योतिष की मानें तो हर दिशा का संबंध एक न एक ग्रह से ज़रूर होता है। इसके अनुसार अगर कोई भी इंसान अपने घर में हर चीज़ वास्तु के अनुसार रखता है तो उसके जीवन की परेशानियां खत्म होनी लगती हैं। इसके अलावा इसमें यह भी बताया गया... आगे पढ़े

एकादश रुद्र का स्मरण

Updated on 4 August, 2018, 9:07
शास्त्रों के मुताबिक शिव ग्यारह अलग-अलग रुद्र रूपों में दु:खों का नाश करते हैं। यह ग्यारह रूप एकादश रुद्र के नाम से जाने जाते हैं। जानते हैं:- 🕉1. शम्भू– शास्त्रों के मुताबिक यह रुद्र रूप साक्षात ब्रह्म है। इस रूप में ही वह जगत की रचना, पालन और संहार करते हैं। 🕉2. पिनाकी... आगे पढ़े

ये थे भगवान विष्णु के पहले अवतार

Updated on 4 August, 2018, 8:20
सत्यव्रत नाम के राजा एक दिन कृतमाला नदी में सूर्यदेव को अर्घ्य दे रहे थे। उसी समय उनके हाथ में एक छोटी सी मछली आ गई। राजा ने उस मछली को वापिस नदी में डाल दिया तो मछली ने उसे कहा कि इस जल में बड़े जीव-जंतु मुझे खा जाएंगे।... आगे पढ़े

धर्म को मोक्ष की जगह अगर इससे जोड़ें तो सभी समस्याओं का होगा अंत

Updated on 4 August, 2018, 7:00
आचार्य लोकेशमुनि अंतरराष्ट्रीय रिसर्च संगठन ग्लोबल फुटप्रिंट नेटवर्क ने गणना करके बताया है कि हमारे अतिभोग के चलते पृथ्वी के संसाधनों के खात्मे की तारीख तेजी से करीब आती जा रही है। भविष्य के लिए निर्धारित संसाधनों को हम वर्तमान में खर्च करके सर्वनाश की ओर बढ़ रहे हैं। आज सारे... आगे पढ़े

आपके घर में कहां है वास्तुदोष ऐसे जानें आसानी से

Updated on 4 August, 2018, 6:40
हर कोई चाहता है कि घर में हमेशा सुख-शांति का माहौल रहे, उसके लिए वह हर दिन प्रयास करता है, कई त्याग करता है। वास्तु द्वारा हम अपने भाग्य को, जितना हो सके उतना खुशहाल बनाने की कोशिश करते हैं। आपको किस तरह की परेशानी लगतार बनी हुई है, इसके... आगे पढ़े

एक ऐसा जंगल जो अनजाने में बन गया पाप का भागीदार

Updated on 3 August, 2018, 8:20
हिंदू धर्म के शास्त्रों व ग्रथों में एेसे कई पात्र और स्थानों के बार में बताया गया है जो अपने आप में ऐतिहासिक व रहस्यमयी है। हिंदू धर्म में देवी-देवताओं की संख्या ज्यादा होने के कारण इनसे जुड़े स्थान व कथाओं की संख्या भी अधिक हैं। लेकिन आज एेसे कई... आगे पढ़े

सीता स्वयंवर में तोड़े गए धनुष का रहस्य जानते हैं आप ?

Updated on 3 August, 2018, 7:00
राजा जनक भगवान शिव के वंशज थे और भोलेनाथ का धनुष उनके राज महल में रखा था। महाराज जनक ने कहा था कि जो उस धनुष की प्रत्यंचा को चढ़ा देगा, उसी से मेरी पुत्री सीता का विवाह होगा। शिव धनुष कोई साधारण धनुष नहीं था बल्कि उस काल का... आगे पढ़े

दूध से जुड़ी ये एक गलती पड़ सकती है आप पर भारी

Updated on 3 August, 2018, 6:40
आज के समय में हर कोई सफलता पाने के लिए मेहनत करता है लेकिन कई बार एेसा होता है कि हमें मनचाहा परिणाम नहीं मिलता। हर कोई चाहता है कि वह अच्छी नौकरी करें, पर कई बार योग्यता होने के बावजूद कई लोगों को जॉब नहीं मिल पाती। इसका कारण... आगे पढ़े

रुद्राभिषेक के विभिन्न पूजन के लाभ

Updated on 2 August, 2018, 10:14
रुद्राभिषेक के विभिन्न पूजन के लाभ इस प्रकार हैं- • जल से अभिषेक करने पर वर्षा होती है। • असाध्य रोगों को शांत करने के लिए कुशोदक से रुद्राभिषेक करें। • भवन-वाहन के लिए दही से रुद्राभिषेक करें। • लक्ष्मी प्राप्ति के लिये गन्ने के रस से रुद्राभिषेक करें। • धन-वृद्धि के लिए शहद एवं... आगे पढ़े

क्या है शिव की प्रिय कांवड़ यात्रा का रहस्य, जानें इससे जुड़ी मान्यताएं

Updated on 2 August, 2018, 8:20
हिंदू धर्म के अनुसार सावन भगवान शिव का प्रिय माह है। जिस कारण इस महीने में भोलेनाथ के भक्त उनकी प्रिय कांवड़ यात्रा निकालते हैं। लेकिन यह यात्रा कैसे और कब शुरू हुई इसके बारे में शायद ही किसी को पता होगा। तो आईए जानते हैं, कि इससे जुड़ी मान्यताओं... आगे पढ़े

Visitor Counter