Sunday, 11 April 2021, 4:20 AM

ज्योतिष एवं वास्तु

ऐसे स्थिति में नहीं रखने चाहिए नवरात्रि के व्रत

Updated on 10 April, 2021, 6:45
इस वर्ष का नवरात्रि पर्व का 13 अप्रैल से आंरभ होने वाला है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से देवी दुर्गा का यह पर्व शुरू हो जाता है। जो पूरे नौ दिन तक धूम धाम से मनाया जाता है। पूरे देश में... आगे पढ़े

गणगौर पर्व विशेष: पूजा के बाद इस आरती का करें गुणगान

Updated on 10 April, 2021, 6:45
बताया जाता है गणगौर पर्व निमाड़ के प्रसिद्ध त्यौहार में से एक है। राजस्थान एवं सीमावर्ती मध्य प्रदेश का यह त्यौहार चैत्र महीने की शुक्ल पक्ष की तीज को मनाया जाता है। कुवांरी लड़कियां एवं विवाहित महिलाएं इस दिन शिव जी जिन्हें इसर जी और देवी पार्वती जी यानि गौरी... आगे पढ़े

इस साल 15 अप्रैल को है गणगौर, यहाँ जानिए क्यों पति से छुपकर व्रत रखती हैं पत्नियां

Updated on 10 April, 2021, 6:30
हर साल गणगौर पूजा की जाती है। आप सभी ने इसके बारे में सुना या पढ़ा होगा। वैसे यह व्रत महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए करती हैं। सबसे खास ये त्योहार राजस्थान और मध्यप्रदेश में मनाया जाता है। कहा जाता है गणगौर व्रत के दिन महिलाएं भगवान... आगे पढ़े

नवरात्रि का व्रत रखते समय भूलकर भी न करें ये 8 काम, वरना मां दुर्गा हो जाएंगी रुष्ट!

Updated on 10 April, 2021, 6:15
चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल से शुरू होने जा रहे हैं. ये पर्व मां दुर्गा को समर्पित है. इस दौरान मां दुर्गा के 9 स्वरूपों की अराधना की जाती है. नवरात्रि में मां दुर्गा की विधि-विधान के साथ पूजा की जाती है और उनसे जीवन में सुख समृद्धि और शांति की... आगे पढ़े

प्राचीन भारत के ऐसे लोग जो हैं अयोनिजा, क्या यह सही है?

Updated on 10 April, 2021, 6:00
अयोनिजा का अर्थ होता है वह व्यक्ति जिसका जन्म किसी गर्भ से नहीं हुआ हो। अर्थात गर्भ से बाहर किसी विशेष परिस्थिति में हुआ हो। रामायण, महाभारत और अन्य हिन्दू शास्त्रों में हमें ऐसी ऐसी जन्मकथाएं पढ़ने को मिलती हैं जिन पर सहज ही विश्वास करना थोड़ा मुश्किल होता है।... आगे पढ़े

पतिव्रता नारियों के लिए अनुपम शिक्षा का विषय है गांधारी का चरित्र

Updated on 9 April, 2021, 6:45
पतिव्रता देवियों में गंधर्वराज सुबल की पुत्री व शकुनि की बहन गांधारी का विशेष स्थान है। इन्होंने कौमार्यावस्था में भगवान शंकर की आराधना करके सौ पुत्रों का वरदान प्राप्त किया था। नेत्रहीन धृतराष्ट्र से विवाह के बाद इन्होंने भी आंखों पर पट्टी बांध ली। पति के लिए इंद्रिय सुख के त्याग... आगे पढ़े

9 अप्रैल 2021 को है वारुणी पर्व, जानिए 4 खास बातें

Updated on 9 April, 2021, 6:30
8 अप्रैल 2021 को मध्यरात्रि 3 बजकर 16 मिनट से 9 अप्रैल सूर्योदय से पहले 4 बजकर 57 मिनट तक वारुणी योग रहेगा। स्थानभेद से समयभेद भी हो सकता है। अन्य पंचांगों के अनुसार रात्रि 4 बजकर 8 मिनट से प्रात: 5 बजकर 52 मिनट तक वारुणी योग रहेगा। वारुणी... आगे पढ़े

जानिए कौन-सा काम किस दिन करने से मिलेगी कामयाबी, दिन के हिसाब से शुरू करें काम

Updated on 9 April, 2021, 6:15
देश में अधिकतर लोग शुभ मुहूर्त में किसी नए काम का आरम्भ करते हैं। किन्तु यदि आप किसी पंडित से कांटेक्ट नहीं कर पा रहे हैं, आपको राशि अथवा नक्षत्र दिखवाने का अवसर प्राप्त नहीं हो पा रहा है या फिर आपके पास पंचांग नहीं है तो भी आपको परेशान... आगे पढ़े

श्रीकृष्‍ण की जन्मभूमि की 5 खास बातें

Updated on 9 April, 2021, 6:00
मथुरा उत्तर प्रदेश जिले में यमुना नदी के तट पर बसा एक सुंदर शहर है। यमुना नदी के पश्चिमी तट पर बसा विश्व के प्राचीन शहरों में से एक मथुरा प्राचीन भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता का केंद्र रहा है। इस शहर का इतिहास बहुत ही पुराना है। यह शहर रामायण... आगे पढ़े

तुलसी का महत्व

Updated on 8 April, 2021, 7:00
हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे का बहुत महत्व होता है। तुलसी हमारे आंगन की शोभा बढ़ाती है। हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे का इस्तेमाल कई अलग-अलग शुभ कामों में किया जाता है। कहते हैं भगवान विष्णु को तुलसी बहुत प्रिय है। भगवान विष्णु के प्रसाद में तुलसी के... आगे पढ़े

नमक से भी बनती है किस्मत

Updated on 8 April, 2021, 6:45
नमक का इस्तेमाल हम अपने खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ खुद को बुरी नजर से बचाने के लिए भी करते हैं। हमारे शास्त्रों में नमक को चंद्र और शुक्र का प्रतिनिधि माना गया है। नमक से कई ऐसे वास्तु उपाय किए जाते हैं, जिसे करते ही आपकी सारी समस्याएं... आगे पढ़े

खराब हो शनि तो बनी रहती है समस्या

Updated on 8 April, 2021, 6:30
मनुष्य जीवन में ग्रहों का बेहद प्रभाव पड़ता है। सभी लोगों के जीवन में सही या गलत कर्म का फल देना शनि के हाथ में ही है। शनि न्याय के देवता हैं और वह कर्मों के हिसाब से फल देते हैं। इसलिए शनि ग्रह को कर्म का कारक माना गया... आगे पढ़े

नवरात्रि के दौरान जरूर करें इन खास नियमों का पालन

Updated on 8 April, 2021, 6:15
नवरात्रि का पर्व बहुत ही अनोखा माना जाता है। इस पर्व के दौरान कई लोग उपवास रखते हैं तो कई लोग माता के पूजन में अपना समय व्यतीत करते हैं। वैसे इस बार चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल से शुरू हो रही है और 21 अप्रैल को समाप्त। ऐसे में हिंदू... आगे पढ़े

दाम्पत्य जीवन को ठीक रखता है शुक्र प्रदोष व्रत

Updated on 8 April, 2021, 6:15
कई बार देखा गया है कि ग्रहों के अनुकूल न होने स शादीशुदा जीवन बेहद निराशाजनक रहता है और पति पत्नी के बीच हमेशा अनबन रहती है। अगर आपका भी अपनी पत्नी के साथ अक्सर झगड़ा होता रहता है तो शुक्र प्रदोष का व्रत आपके जीवन की इन समस्याओं को... आगे पढ़े

हनुमान जी के ये मंदिर हैं आस्था के केन्द्र

Updated on 8 April, 2021, 6:00
हिन्दू धर्म में रामभक्त हनुमान के पूजन का काफी महत्व और इनकी पूजा करने का सबसे शुभ दिन मंगलवार है। हनुमान जी को कलयुग में भी जीवित देव माना गया है और श्रृद्धाभाव से पूजा करने से वह भक्तों की मनोकामना भी तुरंत पूरी करते है। इनके कई प्रसिद्ध मंदिर... आगे पढ़े

इस दिन से शुरू होंगे सभी शुभ कार्य, जानिए क्या है महत्व?

Updated on 7 April, 2021, 6:45
हिंदू धर्म में त्योहारों तथा तिथियों कि विशेष अहमियत होती है। ज्योतिष शास्त्रों के मुताबिक, संक्रांति के वक़्त पर सूर्य ग्रह एक राशि से दूसरे राशि में प्रवेश करता है। प्रत्येक वर्ष मेष संक्रांति 14 अप्रैल को आती है। इस दिन सूर्य मीन से मेष राशि में प्रवेश करता है।... आगे पढ़े

कब से प्रारंभ हो रहा है चैत्र नवरात्रि का पर्व

Updated on 7 April, 2021, 6:30
देवी पुराण के अनुसार एक वर्ष में चार नवरात्र आती है। वर्ष के प्रथम महीने अर्थात चैत्र में प्रथम नवरात्रि होती है जिसे चैत्र नवरात्रि या बड़ी नवरात्रि कहते हैं। चौथे माह आषाढ़ में दूसरी नवरात्रि होती है जिसे गुप्त नवरात्रि कहते हैं। इसके बाद अश्विन मास में तीसरी और... आगे पढ़े

64 योगिनियों में से एक पद्मिनी योगिनी

Updated on 7 April, 2021, 6:15
समस्त योगिनियां अलौकिक शक्तिओं से सम्पन्न हैं तथा इंद्रजाल, जादू, वशीकरण, मारण, स्तंभन इत्यादि कर्म इन्हीं की कृपा द्वारा ही सफल हो पाते हैं। प्रमुख रूप से आठ योगिनियां हैं जिनके नाम इस प्रकार हैं:- 1.सुर-सुंदरी योगिनी, 2.मनोहरा योगिनी, 3. कनकवती योगिनी, 4.कामेश्वरी योगिनी, 5. रति सुंदरी योगिनी, 6. पद्मिनी... आगे पढ़े

22 अप्रैल से है शादी के शुभ मुहूर्त, जानिए दिसंबर तक की लिस्ट

Updated on 7 April, 2021, 6:00
साल 2021 आ चुका है और ऐसे में इस साल शादी करने वालों की कमी नहीं है। एक तरफ जहाँ कोरोना का कहर बढ़ रहा है वहीं दूसरी तरफ लोग शादियों का प्लान बना रहे हैं। वैसे इस साल शादी के मुहूर्त बहुत सीमित हैं। इस साल जनवरी में सिर्फ... आगे पढ़े

हरिद्वार कुंभ मेला : नागा बाबाओं के 17 श्रृंगार जानकर हैरान रह जाएंगे

Updated on 5 April, 2021, 6:45
आपने 16 श्रृंगार का नाम तो सुना ही होगा। महिलाएं करती है 16 श्रृंगार और माना जाता है कि महिलाएं अपने साज-श्रृंगार पर सबसे ज्यादा ध्यान देती हैं, लेकिन आपको यह जानकार हैरानी होगी की नागा बाबा भी अपने साज-श्रृंगार पर बहुत ज्यादा ध्यान देते हैं। हर नागा बाबा का... आगे पढ़े

अंतिम समय में दीप दान क्यों करें?

Updated on 5 April, 2021, 6:30
मृत्यु जीवन का अंतिम कटु सत्य है। मृत्यु के लिए दो कार्य आवश्यक हैं। प्रथम-मनुष्य जब पांच तत्वों अर्थात जल, वायु, आकाश, पृथ्वी, अग्रि का ऋण चुका दे, तब मृत्यु को प्राप्त होगा। दूसरा-वह स्थान, वह विधि जब स्थूल शरीर को मिल जाए, जहां मृत्यु होनी है, तब मृत्यु होगी। जहां... आगे पढ़े

कड़वे प्रवचन....लेकिन सच्चे बोल- पानी की लकीर जैसा जीवन

Updated on 5 April, 2021, 6:15
जिंदगी में मां, महात्मा और परमात्मा से बढ़कर और कुछ भी नहीं है। जीवन में तीन आशीर्वाद जरूरी हैं-बचपन में मां का, जवानी में महात्मा का और बुढ़ापे में परमात्मा का। मां बचपन को संभाल देती हैं, जवानी में नीयत बिगड़े तो उपदेश देकर महात्मा सुधार देता है और बुढ़ापे... आगे पढ़े

कौन से हैं वो स्थल जहां पड़े थे श्री राम के चरण पड़े

Updated on 5 April, 2021, 6:00
परेव वास्तव में पड़ाव का अपभ्रंश है जिसका अर्थ है अस्थायी आश्रय स्थल। माना जाता है कि श्री राम, लक्ष्मण जी तथा विश्वामित्र जी ने कुछ समय के लिए यहां अपने लिए एक अस्थायी आश्रय स्थल बना कर पड़ाव डाला था। यह स्थान कोइलवर पुल के पास स्थित है। निकट... आगे पढ़े

इस बार भी फीकी रहेगी ईस्टर की रंगत, जानें क्यों खास है यह पर्व

Updated on 4 April, 2021, 6:45
ईस्टर संडे मनाया जाएगा। दुनियाभर में ईसाई समुदाय के लोग प्रभु यीशु के जी उठने की याद में 'ईस्टर संडे' मनाते हैं। क्रिसमस के दिन यीशु ख्रीस्त का जन्म हुआ था। गुड फ्राइडे के दिन प्रभु यीशु की मृत्यु (गुड फ्राइडे कोई पर्व नहीं, एक दुख का अवसर है) और... आगे पढ़े

इस वर्ष कब है गुड़ी पड़वा? जानिए इसका महत्व और पूजा विधि

Updated on 4 April, 2021, 6:30
भारत देश धार्मिक मान्यताओं के लिए जाना जाता है, वही हिंदू धर्म में चैत्र माह का आरम्भ हो चुका हैं। इस माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को उगादि भी बोलते हैं। हिंदू धर्म में कहा जाता है कि चैत्र मास से नववर्ष का आरम्भ होता है। विशेष तौर... आगे पढ़े

हरिद्वार कुंभ: शाम को गंगा आरती में उमड़ती है श्रद्धालुओं की भारी भीड़

Updated on 4 April, 2021, 6:15
पूरे देश में एक बार फिर से कोरोना वायरस का बढ़ने लगा है। लोगों को इससे बचने के लिए जहां एक तरफ़ एतिहयात बरतने के लिए कहा जा रहा है। वहीं लोगों की धार्मिक भावनाओं को आहत न करने के उद्देश्य से जहां देशभर के प्रसिद्ध मंदिर आदि खोले गए... आगे पढ़े

पूर्व दिशा हो दूषित तो जातक को होते हैं ये बड़े नुकसान

Updated on 4 April, 2021, 6:00
वास्तु शास्त्र के अनुसार कुल दस दिशाएं होतीं हैं, इनकी शुरुआत ऊर्ध्व व ईशान से तथा उत्तर-अधो पर समाप्ति होती है। कहा जाता है दिशा में जहां दिशा शूल होता है, वहीं राहु काल नुकसानदायक होता है। तो वहीं दूसरी ओर, प्रत्येक दिशा के दिग्पाल होते हैं और उनके ग्रह... आगे पढ़े

1 क्लिक में जानिए पूजा का शुभ मुहूर्त व पूजन मंत्र

Updated on 2 April, 2021, 6:45
जैसे कि सब जानते हैं कि होली का पर्व बीत चुका है, जिसके बाद अब सब को बेसब्री से रंग पंचमी का इंतजार है। बता दें होली से ठीक पांच दिन बाद यह त्यौहार मनाया जाता है, जो इस साल 02 अप्रैल को पूरी धूम धाम से देश में मनाया... आगे पढ़े

इन शहरों में धूम धाम से मनाया जाता है ये पर्व

Updated on 2 April, 2021, 6:30
होली के बाद अब 02 अप्रैल को देश के कई क्षेत्रों में रंग पंचमी का त्यौहार मनाया जाता है। यूं तो ये त्यौहार लगभग हर जगह मनाया जाता है। परंतु बताया जाता है कि मुख्य रूप रंग पंचमी का त्यौहार महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश के इंदौर, राजस्थान के जैसलमेर में धूम धाम... आगे पढ़े

अपनी राशि अनुसार रंग चुनकर खेलें रंग पंचमी

Updated on 2 April, 2021, 6:15
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार रंग पंचमी का त्यौहार होली ही तरह हिंदू धर्म में अधिक महत्व रखता है। जैसे में ज्योतिष शास्त्र में इससे जुड़ी बातें व उपाय बताए गए हैं। ठीक उसी तरह वास्तु शास्त्र में रंगों के बारे में बताया गया है। कहा जाता है कि अगर व्यक्ति... आगे पढ़े

Visitor Counter