Thursday, 18 October 2018, 5:58 PM

ज्योतिष एवं वास्तु

शाम ढलते ही करें यह 7 काम देवी लक्ष्मी की बरसेगी कृपा, दूर होगी धन की कमी

Updated on 7 August, 2016, 7:30
सूर्योदय और सूर्यास्त के समय को बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है क्‍योंक‌ि यह द‌िन और रात का संध‌िकाल होता है। शास्‍त्रों में बताया गया है व्यक्त‌ि इस समय में सोने से व्यक्त‌ि के स्वास्‍थ्य और धन का नुकसान होता है उम्र भी कम होती है। जबक‌ि व्यक्त‌ि चाहे तो... आगे पढ़े

वो तीज, वो झूले अब कहां

Updated on 6 August, 2016, 0:06
एक समय था जब तीज आने के दो से तीन दिन पहले से ही घर में झूले पड़ जाते थे और महिलाएं गीतों के साथ उनका आनंद उठातीं थीं। मेंहदी लगाई जाती थी और नए कपड़े, चूड़ियां पहनी जाती थीं। घर में कई तरह का लजीज खाना तैयार होता था।... आगे पढ़े

लाल किताब: न करें ऐसे काम जिससे शनि हो जाएं नाराज

Updated on 6 August, 2016, 0:05
शनिदेव का उल्लेख काल पुरुष के दुख रूप में बताया गया है। शनि देव की दृष्टि वक्र है अर्थात हर किसी पर उनकी दृष्टि रहती है क्योंकि नवग्रहों में शनिदेव का स्थान सर्वश्रेष्ठ है। वह पृथ्वीलोक के न्यायाधीश व दंडाधिकारी हैं। साधारण मानव तो क्या-देवता, असुर, सिद्ध, विद्याधर और नाग... आगे पढ़े

धनवान बनना चाहते हैं तो आज अवश्य करें यह काम

Updated on 4 August, 2016, 0:08
आज बृहस्पतिवार है, जो क‌ि देव गुरू बृहस्पति का द‌िन माना गया है। ज्योत‌िषशास्‍त्री मानते हैं की इनकी कृपा से धन-समृद्धि, पुत्र और शिक्षा की प्राप्ति होती है। वैदिक ज्योतिष में बृहस्पति अर्थात जुपिटर को गुरु की उपाधि प्राप्त है। संसार के स्मस्त प्राणियों में से बृहस्पति का प्रभाव सर्वाधिक... आगे पढ़े

यहां रावण ने भी की थी महादेव की तपस्या, लेकिन गोल न होकर कटा हुआ है शिवलिंग, जानें क्यों?

Updated on 3 August, 2016, 10:10
राजस्थान के उदयपुर जिले में झाड़ोल के कमलनाथ महादेव मंदिर में कभी रावण ने महादेव की तपस्या की थी, तो वहीं मुगलों की अधीनता स्वीकार नहीं करने पर महाराणा प्रताप भी यहीं के जंगल में रहकर कमलनाथ महादेव की पूजा करते थे. कमलनाथ महादेव को आदिवासियों का हरिद्वार भी कहा जाता... आगे पढ़े

नौकरी या व्यवसाय से हैं परेशान, आज अवश्य करें ये काम

Updated on 3 August, 2016, 9:59
बुध शुभ ग्रहों के साथ शुभ और अशुभ ग्रहों के साथ अशुभ परिणाम देते हैं। यदि किसी कुंडली में बुध शुभ हों, तो ऐसे जातक को सभी कार्यों में सफलता मिलती है। बुध एक वर्ष में लगभग आठ माह सूर्य से युति कर बुधादित्य योग का निर्माण करते हैं और... आगे पढ़े

अगस्त महीने के व्रत-त्यौहार

Updated on 1 August, 2016, 23:37
1 अगस्त: सोमवार: मासिक शिवरात्रि, श्रावण सोमवार व्रत, श्रावण चतुर्दशी (चौदश) शिवरात्रि व्रत, लोक मान्य श्री बाल गंगाधर तिलक जी का बलिदान दिवस;   2. मंगलवार: श्री मंगला गौरी व्रत, भौमवती (मंगलवारी) अमावस, हरियाली अमानवस, स्नान दान आदि की श्रावणी अमावस;   3 बुधवार: श्रावण शुक्ल पक्ष प्रारंभ, छिन्नमस्तिका माता श्री चिंतपूर्णी जी एवं... आगे पढ़े

आज आधी रात को करें प्रयोग, नौकरी हो या व्यापार, धन पाने का अतिशुभ मौका

Updated on 1 August, 2016, 9:15
सावन मास की शिवरात्रि भक्तों को विशेष फल देने वाली है। शिवरात्रि के पर्व पर भगवान शिव के जलाभिषेक का विशेष महत्व है। इस दिन जो भी श्रद्धालु सच्चे मन से भगवान शिव की आराधना करते हैं उनकी सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं और सारे संकट पल में दूर... आगे पढ़े

श‌िवल‌िंग पर भूलकर भी नहीं चढ़ाएं यह 7 चीजें, श‌िव जी होते हैं नाराज

Updated on 1 August, 2016, 0:05
सावन का महीना चल रहा है और श‌िव भक्त श‌िव जी को मनाने के ल‌िए तरह-तरह की चीजें श‌िव जी को भेंट कर रहे हैं लेक‌िन गलती से भी आप यह 8 चीजें श‌िव जी को नहीं चढ़ाएं। शंख जल: भगवान श‌िव ने शंखचूड़ नाम के असुर का वध क‌िया था।... आगे पढ़े

आज है सावन की एकादशी, व्यापार-नौकरी में लाभ कमाने के लिए करें उपाय

Updated on 30 July, 2016, 8:44
सावन के महीने में भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए एकादशी का दिन महत्वपूर्ण है। शास्त्रों के अनुसार श्रावण कृष्ण एकादशी के प्रधान देवता विश्वेदेवा हैं। माना जाता है की इस दिन भगवान शिव का विधि-विधान से पूजन करने पर सभी देवों की उपासना हो जाती है।   ज्योतिषशास्त्री कहते हैं... आगे पढ़े

सावन के शनिवार होगा चमत्कार, महादेव काटेंगे शनि देव के सभी प्रकोप

Updated on 30 July, 2016, 8:44
सावन मास में की गई शिव उपासना से शनि दोष का शमन होता है इसलिए पीड़ादायक शनि दशा, साढ़े साती या शनि दोष शांति निम्न महामृत्युंजय शिव उपासना बहुत प्रभावशाली है। महामृत्युंजय मंत्र काल, रोग, दु:ख के नाश के लिए अचूक है। इस महामृत्युंजय मंत्र को रुद्राक्ष माला और कुशा-आसान... आगे पढ़े

इस समय शनि किस राशि पर है भारी जानिए, शुभ-अशुभ प्रभाव

Updated on 29 July, 2016, 8:00
शनि को ग्रहों में सर्वोच्च न्यायाधीश कहा गया है जो अनुचित कार्य करने वालों को समय आने पर दंड देता है।  शनि को सूर्य पुत्र भी कहा जाता है परंतु जब कुंडली में यह दोनों ग्रह ,एक ही भाव में हों या परस्पर दृष्टि संबंध हो तो अनिष्ट फल देते... आगे पढ़े

जानिए, कब कष्टदायी होती है शनि की साढ़ेसाती

Updated on 29 July, 2016, 7:59
भारतीय ज्योतिष शास्त्र में शनि की गणना सर्वाधिक प्रभावशाली ग्रह के रूप में की गई है। यह जितना अनिष्ट फल प्रदायक है उतना ही उत्कृष्ट और अभीष्ट फलदायक भी है।   विश्व के 25 प्रतिशत व्यक्ति शनि की साढ़ेसाती और 16.66 प्रतिशत व्यक्ति इसकी ढैया के प्रभाव में सदैव रहते हैं। तो क्या... आगे पढ़े

गुरु को मिलेगी शनि की दृष्‍टि से निजात, राशि परिवर्तन दे रहा है बड़े उलट फेर के संकेत

Updated on 28 July, 2016, 10:00
शास्त्रनुसार बृहस्पति देव सर्वाधिक शुभ माने जाते हैं। बृहस्पति धनु व मीन के स्वामी हैं। कर्क में वह उच्च व मकर राशि में नीच के माने जाते हैं। गुरु परम उच्च या परम नीच केवल 5 अंश तक रहते हैं। सूर्य, चन्द्र एवं मंगल के मित्र कहे जाते हैं। बुध... आगे पढ़े

सावन के बृहस्पतिवार का उपाय: तिजोरी में छुपाएं यह सामान, 43 दिन के बाद होगा चमत्कार

Updated on 28 July, 2016, 7:58
बृहस्पतिवार को भगवा अथवा गेरुआ रंग के कपड़े पहनें, पूजन के लिए पीले रंग के आसन का प्रयोग करें। किसी प्राण प्रतिष्ठित शिवलिंग अथवा घर में विराजित पारद शिवलिंग का विधिवत पूजन करें। सर्वप्रथम शिवलिंग को पानी में कुशा मिलाकर स्नान करवाएं। शिवलिंग पर पीला कच्चा सूत अथवा मौली चढ़ाएं।... आगे पढ़े

यमुना नदी में मिला तैरता पत्थर, पत्थर को देखने के लिए उमड़ी भीड़

Updated on 27 July, 2016, 21:21
करनाल ज़िले के गांव मोहीदीनपुर में आजकल एक पत्थर चर्चा का विषय बना हुआ है. न केवल गांव में बल्कि आसपास के गांवों तक इस शिला की चर्चा है. दरअसल गांव के पास यमुना नदी में मिला ये पत्थर पानी में तैरता है और आस्था रखने वाले लोगों का तर्क... आगे पढ़े

आपके घर के आगे हैं ये 10 चीजें तो रहेगी धन और सुख की कमी

Updated on 27 July, 2016, 14:32
वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार स‌िर्फ घर के अंदर मौजूद चीजें ही नहीं बल्क‌ि घर के आस-पास मौजूद चीजें भी वास्तु दोष उत्पन्न करके घर में रहने वालों को शारीर‌िक परेशानी, आर्थ‌िक परेशानी, पार‌िवार‌िक जीवन में मनमुटाव और मानस‌िक परेशानी बढ़ाने का काम करते हैं। वास्तु व‌िज्ञान में ऐसे 10 चीजों... आगे पढ़े

50 साल बाद सावन में बन रहा है ऐसा संयोग...

Updated on 27 July, 2016, 0:31
भगवान शिव की भक्ति का महीना सावन शुरू होने वाला है और इस बार सावन कई अदभुत योग लेकर रहा है. ज्योतिषाचार्यों की मानें तो 50 वर्ष बाद सावन में ऐसा योग बन रहा है, जिसमें रोजगार में तरक्की, आय में वृद्धि ज्ञान और कृषि के क्षेत्र में उन्नति की... आगे पढ़े

पाकिस्तान से चलकर हरिद्वार पहुंचे 150 कांवड़िए, दिल खोलकर स्वागत

Updated on 26 July, 2016, 14:28
नई दिल्ली। हरिद्वार में इन दिनों आस्था का एक अद्भुद नजारा देखने को मिला। जब पाकिस्तान से 150 कांवड़िए हरिद्वार पहुंचे और हरिद्वार की जमीन पर आस्था का एक नया रंग दिखाई दिए। पाकिस्तान से हकिद्वार पहुंचे से सभी कांवड़िए भोले बाबा की भक्ति में लीन दिखाई दिए। सबसे पहले... आगे पढ़े

बिसरख में स्थापित होगी रावण की मूर्ति

Updated on 26 July, 2016, 0:01
ग्रेटर नोएडा बिसरख में 11 अगस्त को रावण के साथ-साथ भगवान श्रीराम की मूर्ति की भी स्थापना होगी। श्री लंकेश रावण मंदिर बिसरख धाम के ट्रस्टी ने दावा किया है कि यह पहला मंदिर होगा, जहां रावण के साथ-साथ भगवान श्रीराम की मूर्ति की स्थापना की जाएगी। रावण का मंदिर बनकर तैयार... आगे पढ़े

शिवपुराण: कुबेर के खजाने तक पंहुचने के लिए रात को करें ये उपाय

Updated on 25 July, 2016, 9:23
वर्तमान समय में सावन का महीना चल रहा है। भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए यह सर्वोत्तम माह है। इन दिनों किया गया भजन, उपाय, अनुष्ठान, व्रत अक्षय गुणा पुण्य देता है। जब धन प्राप्ति के सारे उपाय असफल हो जाते हैं, तब शिवजी के परम मित्र कुबेर की आराधना... आगे पढ़े

इस मंदिर के फर्श पर सोने से प्रेगनेंट हो जाती हैं औरतें!

Updated on 25 July, 2016, 9:15
निसंतान लोग संतान के लिए क्या क्या नहीं करते। ऐसा ही कुछ हिमाचल प्रदेश के एक गांव में होता है। हिमाचल के सिमस गांव में एक ऐसा मंदिर है जिसके फर्श पर सोने से निसंतान महिलाएं प्रेगनेंट हो जाती हैं। कहते हैं कि खुद देवी मां उनको सपनों में आकर... आगे पढ़े

सावन: सोमवार को धारण करें यह कवच, खुद को बनाएं देवताओं की तरह शक्तिशाली

Updated on 24 July, 2016, 13:09
शिवपुराण के अनुसार जब तारकासुर के पराक्रम से सभी देवगण त्रस्त हो गए तो वे भगवान रुद्र के पास अपनी दुर्दशा सुनाने तथा तारकासुर से त्राण पाने के लिए गए। भगवान शिव ने उनका दुख दूर करने के लिए दिव्यास्त्र तैयार करने के लिए सोचा और इस दिव्यास्त्र को तैयार... आगे पढ़े

अनोखा प्रसाद! जिसे खाने से पूरी होती है बच्चे की मुराद

Updated on 24 July, 2016, 9:11
लिंग रूप में भगवान शिव की पूजा तो कई जगह पर होती है लेकिन मां शक्ति की लिंग रूप में पूजा होते आपने कहीं नहीं देखा होगा। क्या आपको पता है कि छत्तीसगढ़ के अलोर गांव की एक पहाड़ी पर स्थित एक अनोखे मंदिर में मां शक्ति की लिंग रूप में... आगे पढ़े

रहस्यमयी मंदिर में सिर्फ प्रसाद खाता है ये शाकाहारी मगरमच्छ

Updated on 22 July, 2016, 0:13
मरगमच्छ अगर आपके सामने अचानक आ जाए तो आपकी जान हलक में आ जाएगी। लेकिन एक ऐसी भी जगह है जहां लोग एक मगरमच्छ के दर्शन करने दूर दूर से आते हैं। इस मगरमच्छ की खास बात यह है कि यह पूरी तरह से शाकाहारी है और सिर्फ प्रसाद ही... आगे पढ़े

उपाय: सावन के गुरुवार शिव बनकर ताड़केश्वर, हर लेंगे दुर्भाग्य

Updated on 21 July, 2016, 0:10
सावन के महीने में पृथ्वी पर हर ओर हरियाली की मखमली चादर पसर जाती है। प्रकृति की समस्त कृतियां अपने सर्वोत्तम स्तर पर होती हैं। शिव और सावन एक-दूसरे के पूरक हैं। बृहस्पति ज्ञान के देवता हैं अतः 21 जुलाई को एक अद्भुत संयोग है जहां एक तरफ संघारक शिव... आगे पढ़े

सावन विशेष: भगवान शिव ने काटा था ब्रह्मा का सिर, पश्चाताप के लिए की थी इस मंदिर में पूजा

Updated on 20 July, 2016, 18:33
मध्यप्रदेश की उज्जैन नगरी में स्थित कपालेश्वर महादेव मंदिर का सभी 84 महादेवों में विशेष स्थान है. माना जाता है कि क्रोध में ब्रह्मा का सिर काटने के बाद पश्चाताप के लिए भगवान शिव ने यहीं आकर पूजा की थी, जिससे उन्हें ब्रह्म हत्या से मुक्ति मिल गई थी. पौराणिक कथाओं के अनुसार... आगे पढ़े

सावन के महीने में इन चीजों को खाने से भोलेनाथ होते हैं नाराज

Updated on 18 July, 2016, 9:17
सावन के महीने में शिवलिंग की पूजा की जाती है और शिवाभिषेक, रुद्राभिषेक आदि भी किया जाता है जिससे भगवान शिव की कृपा हम पर बनी रहे। हमें सबके साथ आत्मीयता का भाव रखना चाहिए, अच्छा व्यवहार करना चाहिए। भगवान शिव के साथ शिवगण, रुद्रगण, भूत-प्रेत, सांप जैसे जहरीले प्राणी... आगे पढ़े

4 महीने करें यह कर्म, जन्मों तक वैभवशाली होकर स्वर्ग में जाकर इन्द्र जैसा सुख भोगेंगे

Updated on 17 July, 2016, 0:29
पदमपुराण के अनुसार जिन दिनों में भगवान विष्णु शयन करते हैं उन चार महीनों को चातुर्मास एवं चौमासा भी कहते हैं। देवशयनी एकादशी से हरिप्रबोधनी एकादशी तक चातुर्मास 15 जुलाई से 11 नवम्बर तक चलेगा, इन चार मासों में विभिन्न कर्म करने पर मनुष्य को विशेष पुण्य लाभ की प्राप्ति होती... आगे पढ़े

चातुर्मास: आधी रात को करें यह उपाय, बनेंगे लाखों-करोडों की दौलत के स्वामी

Updated on 16 July, 2016, 9:47
पदमपुराण के अनुसार जिन दिनों में भगवान विष्णु शयन करते हैं, उन चार महीनों को चातुर्मास एवं चौमासा भी कहते हैं। इन चार मासों में विभिन्न कर्म करने पर मनुष्य को विशेष पुण्य लाभ की प्राप्ति होती है क्योंकि किसी भी जीव की ओर से किया गया कोई भी पुण्यकर्म... आगे पढ़े

Visitor Counter