Friday, 22 March 2019, 12:24 PM

ज्योतिष एवं वास्तु

कल खुलेंगे भगवान केदारनाथ के कपाट

Updated on 9 May, 2016, 9:44
देहरादून: हिन्दुओं के प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक बाबा केदारनाथ धाम के कपाट कल और भगवान बद्रीनाथ के कपाट 11 मई को विधिवत पूजा अर्चना के बाद सभी श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। सूत्रों के अनुसार प्रशासन ने हर... आगे पढ़े

12 साल बाद हो रही है यह खगोलीय घटना, व्यापार क्षेत्र पर पड़ेगा शुभ प्रभाव

Updated on 9 May, 2016, 9:42
अक्षय तृतीया के दिन किए गए कार्यों का अक्षय फल मिलता है।  ब्रह्मा जी के पुत्र अक्षय कुमार का जन्म  भी इसी दिन माना जाता है। हयग्रीव का अवतार इसी दिन माना गया है। यह एक सर्वसिद्ध मुहूर्त माना जाता है जिस दिन पंचांग देखे बगैर कोई भी मांगलिक शुभ... आगे पढ़े

दुर्भाग्य को न्योता देना है रसोई में इस दिशा में खाना बनाना

Updated on 8 May, 2016, 11:49
घर, ऑफिस या फिर कोई अन्य स्थान, अगर वास्तु के अनुकूल नहीं हैं तो वहां रहने और आने-जाने वाले लोगों के ऊपर इसका नकारात्मक प्रभाव जरूर पड़ता है। बात जब रसोई की आती है तो यह और भी महत्वपूर्ण हो जाता है क्योंकि रसोई ही एक तरह से पूरे घर का... आगे पढ़े

क्या आपके घर में सूर्य तत्व का ख्याल रखा गया है?

Updated on 8 May, 2016, 11:49
भवन निर्माण में वास्तु शास्त्र की अहम भूमिका है। इसकी अनदेखी भवन मालिक या उसमें रहने वालों के लिए न सिर्फ नुकसानदायक बल्कि कई बार घातक भी साबित हो सकती है। वास्तु शास्त्र में पंचतत्वों को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। इन पंचतत्वों के आधार पर ही वास्तु के नियमों... आगे पढ़े

कितना वैज्ञानिक है मंत्रों का उच्चारण?

Updated on 7 May, 2016, 12:00
मंत्र सदियों से भारतीय परंपरा का अभिन्न अंग रहे हैं। हिंदू धर्म और संस्कृति में इनकी अतिविशेष महत्ता है। लेकिन क्या इन मंत्रों का कोई साइंटिफिक कनेक्शन भी है? क्या इसका हमारे स्वास्थ्य या मस्तिष्क पर कुछ प्रभाव पड़ता है? सामान्य तौर पर देखें तो 'मंत्र' विशेष शब्दों का एक समूह... आगे पढ़े

सूखे के कारण शिरडी आए भक्तों को रहना पड़ रहा प्यासा

Updated on 6 May, 2016, 15:13
अहमदनगर, पानी की कमी का असर अब पूरे अहमदनगर जिले में नजर आने लगा है। देश के सबसे धनी मंदिरों में से एक साईं बाबा मंदिर में भी सूखे के कारण भक्तों को काफी परेशानी हो रही है। मंदिर आने वाले हजारों भक्तों को पीने के पानी की किल्लत से... आगे पढ़े

अमरनाथ में शि‍वलिंग की पहली तस्वीर आई सामने

Updated on 6 May, 2016, 13:22
ग्लोबल वार्मिंग का असर अमरनाथ पर भी, इस बार बना सबसे छोटा श‍िवलिंग   श्रीनगर, पवित्र अमरनाथ गुफा में हर साल बनने वाली शिवलिंग की पहली तस्वीर सामने आई है. इस शिवलिंग ने पूरा आकार ले लिया है लेकिन चिंता की बात यही है कि पिछले वर्षों की तुलना में इस बार... आगे पढ़े

वृन्दावन के ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर में टूटी दो सौ वर्ष पुरानी परंपरा

Updated on 5 May, 2016, 15:11
वृन्दावन के ठाकुर बांकेबिहारी इन दिनों बहुत संकट में हैं। उन्हें एक माह से दो सौ वर्ष पुरानी परंपरा के अनुसार राजभोग (प्रात:कालीन) सेवा के दौरान कच्चा भोजन नहीं मिल पा रहा है। मंदिर प्रबंधन ने अखबारों में विज्ञापन एवं मुनादी के माध्यम से सभी सेवायतों को सूचना देकर इस... आगे पढ़े

जम्मू-कश्मीर में 27 साल बाद खुला वैताल भैरव मंदिर

Updated on 30 April, 2016, 23:50
श्रीनगर, पुराने श्रीनगर शहर के बीच में सदियों पुराने वैताल भैरव मंदिर को 27 साल बाद दोबारा खोल दिया गया। इस मंदिर को खोले जाने पर कश्मीरी पंडितों के एक समूह ने भगवान भैरव की जयंती पर पूजा अर्चना की। वर्ष 1990 में बड़ी संख्या में कश्मीरी पंडितों के घाटी छोड़कर... आगे पढ़े

अपनाए ये तरीके कर्ज से मिलेगा छुटकारा, होगी पैसों की बारिश

Updated on 26 April, 2016, 17:07
क्या आप भी कर्ज से परेशान हैं. चाहते हुए भी इसकी भरपाई नहीं कर पा रहे. तो घबराइए मत हम आपको बताते हैं आसान तरीका. इन तरीकों को इस्तेमाल करके आप जल्द से जल्द अपने कर्ज की भरपाई कर पाएंगे. 1. हमेशा याद रखें कर्ज की पहली किस्त मंगलवार से देना... आगे पढ़े

सिंहस्थ कुभ 2016 : कुंभ से जुड़े इन तथ्यों को जानते हैं आप?

Updated on 26 April, 2016, 11:12
उज्जैन में सिंहस्थ कुभ जारी है, वहीं हरिद्वार में भी चल रहा अर्धकुंभ अब समापन की ओर है। कुंभ दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन है। सदियों से यह आयोजन अपने परंपरागत रूप में चला आ रहा है, और इसे लेकर लोगों की मान्यताओं में न के बराबर परिवर्तन आया... आगे पढ़े

देवभूमि के इस ‌मंदिर में भगवान को देखने पर भक्त हो जाते हैं अंधे

Updated on 25 April, 2016, 10:56
उत्तराखंड के देवाल स्थित पर्यटन एवं धार्मिक स्थल वाण के लाटू मंदिर में श्रद्धालु अंदर प्रवेश नहीं करते, बल्कि मंदिर से 30 मीटर दूर परिसर में ही रहकर पूजा करते हैं। मंदिर के अंदर केवल पुजारी प्रवेश करता है वो भी आंख पर पट्टी बांधकर। इसी रहस्य और आस्था से... आगे पढ़े

हरिद्वार अर्धकुंभ फीका क्यों रह गया?

Updated on 25 April, 2016, 9:04
हरिद्वार, हरिद्वार में 4 महीने चला अर्धकुम्भ इस बार भीड़ के लिहाज से कुछ फीका रहा। शुरुआती गर्मी के बाद बीच में आतंकवादियों के पकड़े जाने की खबर बाहर आने के बाद इस मेले की रौनक बन नहीं पाई। शनिवार को मेला सुरक्षा में लगे तमाम सुरक्षा बलों द्वारा किए स्नान... आगे पढ़े

शास्त्रों के अनुसार आने वाले धन को रोकती हैं आपकी ये ‘बुरी आदतें’

Updated on 25 April, 2016, 9:04
यदि आप शास्त्रों में विश्वास रखते हैं तो वाकई शास्त्रों में वर्णित निर्देशों का पालन करते होंगे। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यदि आप हर समय, हर दिन शास्त्रीय नियमों का पालन करेंगे, तो लाइफ इतनी आसान हो जाएगी कि आप समझ भी नहीं पाएंगे। लेकिन यदि आपको विश्वास... आगे पढ़े

हनुमान जी के गुणों से आलोकित करें जीवन

Updated on 22 April, 2016, 6:48
यदि हम खुद को हनुमान जी का सच्चा भक्त मानते हैं, तो हमें ऐसे महान चरित्र के चारित्रिक गुणों के प्रकाश से स्वयं को प्रकाशित करने का प्रयास करना चाहिए। मनोजवं मारुत तुल्यवेगंए जितेन्द्रियं बुद्धिमना वरिष्ठम। वातात्मजं वानरयूथ मुयंएश्रीरामदूतं शरणं प्रपद्ये॥ उक्त श्लोक द्वारा हमें सर्वतोमुखी शक्ति के प्रतीक हनुमान जी का यथार्थ... आगे पढ़े

तो क्या हनुमान जी से जुड़ा है बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य!

Updated on 21 April, 2016, 19:11
हमारी पृथ्वी पर समुद्र में एक ऐसी जगह है, जहां जाने के बाद शायद कोई वापिस आ पाए। यह जगह है बरमूडा ट्रायंगल जिसे बरमूडा त्रिभुज के नाम से भी जाना जाता है। यह जगह उत्तर- पश्चिम अटलांटिक महासागर में है। जहां जाने वाले विमान और पानी के जहाज गायब... आगे पढ़े

जानिए वर्धमान से महावीर बनने की कहानी

Updated on 19 April, 2016, 8:29
बचपन में भगवान महावीर को 'वर्धमान' नाम से संबोधित किया जाता था। उनके पिता का नाम सिद्धार्थ था, जो कि वैशाली गणतंत्र के शासक थे। और मां का नाम त्रिशला जोकि धर्मपरायण महिला थीं। वर्धमान, तीसरी संतान के रूप में जन्मे थे। श्वेताम्बर सम्प्रदाय की मान्यता है कि वर्द्धमान ने यशोदा... आगे पढ़े

इस शख्स ने दी बाबासाहेब को बौद्ध की दीक्षा, अंबेडकर नाम सुनते ही उठ जाते हैं बिस्तर से

Updated on 14 April, 2016, 10:14
दलित आइकॉन डॉ. बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर ने 14 अक्टूबर 1956 को बौध धर्मं को अपनाया था और इस ऐतिहासिक क्षण के एकलौते गवाह थे 90 साल के बौध भिक्षु भादंता प्रज्ञानंद. आज प्रज्ञानंद की सेहत उन्हें बिस्तर से उठने की इजाजत नहीं देती लेकिन जब बात बाबासाहेब की आती है... आगे पढ़े

शुभता प्रदान करने वाली हैं महागौरी

Updated on 14 April, 2016, 9:32
नवरात्र के आठवें दिन मां दुर्गा के आठवें स्वरूप महागौरी की पूजा का विधान बताया गया है। कहा जाता है कि भगवान शिव को पति के रूप में प्राप्त करने के लिए इन्होंने कठोर तपस्या की थी, जिससे इनका शरीर काला पड़ गया। लेकिन इनकी कठोर तपस्या से महादेव प्रसन्न... आगे पढ़े

जानिए वैशाखी मनाने का इतिहास

Updated on 12 April, 2016, 18:09
वैसाखी का पर्व विशेष रूप से तख्त श्री केद्गागढ़ साहिब, श्री आनंदपुर साहिब एवं गुरू की काशी तलवंडी साबों में खालसाई शान से मनाया जाता है।   भारत में वैसाखी विक्रमी संवत् के पहले दिवस के रूप में मनाया जाने वाला त्योहार रहा है। यह नये साल का प्रारंभ है। भाई काहन... आगे पढ़े

वर्ष में सिर्फ नवरात्रि में ही खुलता है मां का दरबार

Updated on 12 April, 2016, 18:08
दमोह(मध्यप्रदेश)। प्राचीन भारत दुर्गा मां मंदिर के पट प्रतिवर्ष अनुसार इस बार भी नवरात्र की प्रतिपदा को भक्तों के लिए खोल दिए गए। यहां विराजमान मां सिंहवाहनी का दरबार हर 6 माह में एक बार नवरात्रि पर लगता है। शेष दिनों में गर्भगृह बंद रहता है और मंदिर के बाहर... आगे पढ़े

मां दुर्गा के आशीर्वाद का अवसर है नवरात्रि

Updated on 11 April, 2016, 14:13
हमारे शास्त्रों में मां दुर्गा के उक्त नौ स्वरूप बताए गए हैं। पहला शैलपुत्री, दूसरा ब्रह्मचारिणी, तीसरा चंद्रघंटा, चौथा कूष्मांडा, पांचवां स्कंद माता, छठा कात्यायनी, सातवां कालरात्रि, आठवां महागौरी और नौवां सिद्धिदात्री। मां दुर्गा के ये नौ नाम स्वयं ब्रह्मा द्वारा कहे गए हैं। आज से वासंतिक यानी चैत्र नवरात्र... आगे पढ़े

शीतलाष्टमी आज: रोगों से रक्षा करता है यह व्रत

Updated on 31 March, 2016, 11:14
शीतला अष्टमी का व्रत, चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता है। इस साल यह व्रत, 31 मार्च गुरुवार को है। इसमें शीतला माता का व्रत और पूजन किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि शीतला अष्टमी व्रत को करने से व्यक्ति के पूरे परिवार में दाह... आगे पढ़े

होली के 10 फ‍िल्‍मी तराने: होली आई रे कन्‍हाई, रंग छलके...

Updated on 22 March, 2016, 17:11
नवोदित सक्‍तावत। होली के त्‍योहार को हिंदी सिनेमा में भरपूर भुनाया गया है। यह ऐसा त्‍योहार है जिसका चित्रण सिनेमा में बदलते दौर के साथ बदलते रूपों में किया गया लेकिन तेजी से बदलते दौर, युवा, समाज की सोच और अभिरुचियों, प्राथमिकताओं के बावजूद यह त्‍योहार यदि हाशिये पर नहीं... आगे पढ़े

विशेष: देशभर में 16 तरह से मनाई जाती है होली

Updated on 22 March, 2016, 8:19
भारत विविधताओं वाला देश है। त्योहार एक होता है लेकिन अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग तरीकों से मनाया जाता है। रंगों से भरे त्योहार होली के साथ ही ऐसा ही है। पूर्वी प्रदेश मणिपुर के याओसांग में योंगसांग उस नन्हीं झोंपड़ी का नाम है जो पूर्णिमा के दिन प्रत्येक नगर-ग्राम में नदी... आगे पढ़े

हो चुकी है शक संवत् 1938 की शुरुआत

Updated on 21 March, 2016, 12:05
21 मार्च 2016 यानी शक संवत् 1938 की शुरुआत हो चुकी है। शक संवत भारत का प्राचीन संवत है जो 78 ई. से आरम्भ होता है। शक संवत भारत का राष्ट्रीय कैलेंडर है। इसे उज्जयिनी के क्षत्रप चेष्टन ने प्रचलित किया। शक राज्यों को चंद्रगुप्त विक्रमादित्य ने समाप्त कर दिया... आगे पढ़े

होली से पहले खाटू श्याम जी का मेला

Updated on 20 March, 2016, 8:31
फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की द्वादशी गोविंद द्वादशी के नाम से प्रसिद्ध है। इस दिन खाटूश्याम( राजस्थान) में भव्य उत्सव और मेले का आयोजन किया जाता है। इस वर्ष यह मेला 20 मार्च के दिन है। राजस्थान राज्य के सीकर जिले में एक प्रसिद्ध कस्बा खाटू नगर है, जहां... आगे पढ़े

प्रकृति देती है संकेत, जिन्हें कहते हैं शकुन

Updated on 16 March, 2016, 21:31
संपूर्ण प्रकृति पृथ्वी पर मौजूद लोगों से जुड़ी है। यही कारण है कि मनुष्य के जीवन में आने वाले शुभ-अशुभ का पता पहले से ही लग जाता है। इसे हम शकुन कहते हैं। इस बारे में पूरा शास्त्र है जिसका नाम शकुन शास्त्र है। शकुन शास्त्र की मान्यता है कि... आगे पढ़े

8 अप्रैल से शुरू होंगे 8 दिन के वासंती नवरात्र

Updated on 16 March, 2016, 8:27
हिंदी नव वर्ष 8 अप्रैल से शुरू होगा। विक्रम संवत 2072 समाप्त हो रहा है और 2073 के चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि इसी दिन है। इसी के साथ वासंती नवरात्र भी शुरू हो जाएंगे। हालांकि इस बार नवरात्र सिर्फ 8 दिन के होंगे। पंचमी तिथि का क्षय होने... आगे पढ़े

जादू की तरह है लो-शू, आखिर क्यों

Updated on 14 March, 2016, 12:11
एक बहुत प्रसिद्ध चीनी लोककथा है। यह कथा कुछ ऐसी है कि, चीनी विद्वान फूसी जब उत्तरी चीन की लो नदी के किनारे तप कर रहे थे। उन्होंने ध्यान में देखा कि उस नदी से एख कछुआ निकला। उस कछुए की पीठ पर कई निशान बने हुए थे। उसकी त्वचा पर... आगे पढ़े

Visitor Counter